Welcome To Bookcuriosity.com!
It's Nice To Meet You
View Our Publishing Process

Bookcuriosity

e-way of publicaton

Our Mission

Our mission is from the unreal lead us to real,from darkness lead us to light,from death lead us to unto immortality.Inspired by the enduring magic and importance of books,our objective is to create and distribute exceptional publishing thats instantly recognizable for its spirit,creativity,and value.

Our Vision

We have an important mission to complete.We want to take "the whole word to the whole world".But we cannot accomplish this goal without your help.Our main intention is to reduce the hectic and cumbersome process of publication. we provides e-way publication to our writers,which will give a new era of publication.

Saarthak

"सार्थक" is an innovative initiative of Bookcuriosity.com."सार्थक" is an online web journal dedicated to all sahitya lovers.It is not only a magazine.But it is known for uniqueness and its content.It provides all neccessary things about our mother tongue Hindi.

We Provide Services in

Educational Books | Novels | Science-fiction | Magazine | Cooking | Biography | Competative Books

If you want to become an inspiration?Then it is your time to show your creativity.It's time to see your verses soar to reader across the globe.The most hectic process in the way of becoming an author, publishing is changing forever.Bookcuriosity will give you the chance to showcase your writing in front of the world.Bookcuriosity will give you "freedom to write,what you think".Get Published in easy and cost effective way. Just few more steps and you are done.

see our publishing process of just few steps and your journey starts now....

Our Publishing Objectives

Our main objectives are to:

  • Give hassle free publication

  • Give platform to young writers to showcase their work

  • Give planned publicity by online and offline way

  • Give wide range of distribution platform

  • Give authors international recoganization

Recent Updates

​ई-पत्रिका ' सार्थक ' का संपादन करने व छापने के लिए न स्टॉफ चाहिए,न प्रेस, न काग़ज़,न विक्रेता और.ना ही व्यवस्था औऱ विग्ञयापन ! पर पाठक तो होने चाहिएँ ,जो छपे सामग्री का रसास्वादन करे और हमारी विचारधाराओं को जानें.जिन के खातिर यह पत्रिका तैयार कर हम ऑनलाइन कर रहे हैं वे ही अगर न रहे तो ! इसी लिए पाठको,आप हमारी ऑनलाइन पत्रिका ' सार्थक ' अपना कर हमारी तुच्छ मेहनत को सार्थक बना रहे हैं.मैं आप के प्रति उतना ही आभारी हूँ जितना कि मैं अपने संपादन सहयोगियों कै प्रति हूँ.
' सार्थक ' साहित्यिक प्रयास टेक्नोलॉजी के बिना कहाँ संभव हो पाता ! एक तो विशुद्ध हिंदी साहित्य को हम नयी टेक्नोलॉजी के माध्यम से प्रचारित करना चाह रहे हैं तो दूसरी तरफ हम देवनागरी से वैश्विक संपर्क स्थापित कर देश-विदेश में बसे हिन्दी भाषी अपने भिई-बहनों से सम्प्रेषण करना चाहते हैं.उन के करीबी बनने के इच्छुक हैं औऱ उन्हें अपने पास रखना चाहते हैं.' सार्थक ' का एक संपादक अमेरिका में हैं तो दो भारत के कोलकाता शहर में ओर एक मोरीशस में ! हम कभी मिले हों यह ज़रूरी नहीं. पर नई टेक्नोलॉजी ही कारण है कि हम इस कार्य-हेतु हम जुड़ पाए हैं.

Read More

Your Feedback

Authors View

About Our Web Journal "सार्थक"

  • Dr Shweta Dipti

    Our Humble Beginnings

    इस अंक में मुझे भी अवसर देने के लिये शुक्रिया.उत्तरोत्तर प्रगति की शुभ कामना है!

  • Santosh Srivastava

    On Third Edition

    सार्थक का विश्व हिन्दी अंक सचमुच सार्थक अंक है। सभी सामग्री स्तरीय है ओर सम्पादक मंडल की मेहनत,लगन को स्पष्ट करती है ।बधाई। निराला जी पर केन्द्रित अंक की प्रतीक्षा रहेगी।

  • Rishaba Deo Sharma

    On Third Edition

    'सार्थक' अभियान में मुझे भी शामिल करने हेतु कृतज्ञ हूँ। सार्थक' की प्रासंगिकता के हम कायल हुए। सहज अभिव्यक्ति

  • Call To Publish Your Writings

    [email protected]
    +91 7687069170

Connect With Us On Facebook